Urfi Javed EXCLUSIVE: अगर उर्फी जावेद मुस्लिम नहीं होतीं तो क्या होता? जानें एक्ट्रेस का रिएक्शन

Urfi Javed EXCLUSIVE : एक्ट्रेस उर्फी जावेद को उनके फैशन सेंस के लिए जितना पसंद किया जाता है, उतना ही उन्हें ट्रोल भी किया जाता है। अक्सर उर्फी जावेद की ट्रोलिंग में उनके धर्म का भी जिक्र किया जाता है.

एक्ट्रेस उर्फी जावेद अब किसी पहचान की मोहताज नहीं हैं। बिग बॉस ओटीटी में उर्फी जावेद का सफर काफी छोटा रहा, लेकिन इसके बाद उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा और आज वह अपने अनोखे फैशन सेंस को लेकर खबरों में हैं। उर्फी जावड़े को जहां प्यार मिलता है तो वहीं उन्हें ट्रोल भी किया जाता है. वहीं ट्रोल्स अक्सर उर्फी जावेद के धर्म का भी जिक्र करते हैं. तो, अगर उर्फी मुस्लिम नहीं होती तो क्या चीजें अलग होतीं? इस सवाल का जवाब उर्फी ने हिंदुस्तान से बातचीत में दिया.

Urfi Javed EXCLUSIVE: अगर उर्फी जावेद मुस्लिम नहीं होतीं तो क्या होता? जानें एक्ट्रेस का रिएक्शन
Urfi Javed EXCLUSIVE: अगर उर्फी जावेद मुस्लिम नहीं होतीं तो क्या होता? जानें एक्ट्रेस का रिएक्शन

अगर उर्फी मुस्लिम न होती

उर्फी जावेद ने कई बार इंटरव्यू और मीडिया बातचीत में इस बात का जिक्र किया है कि चूंकि वह एक मुस्लिम परिवार से हैं, इसलिए शुरुआती दिनों में उन्हें काफी पाबंदियों का सामना करना पड़ा था। वे जो करना चाहते थे उसे करने की उन्हें पूर्ण स्वतंत्रता नहीं थी। उर्फी कई बार अलग-अलग कपड़े पहनकर घर से निकलती थी और फिर मॉल आदि जाकर अपनी पसंद के कपड़े पहनती थी, जिन्हें वह अपने साथ एक बैग में लेकर आती थी। ऐसे में उर्फी से बातचीत के दौरान हिंदुस्तान ने सवाल पूछा- ‘अगर आप मुस्लिम परिवार से नहीं होते तो क्या आज जिंदगी में चीजें अलग होतीं?’

सोच तो सोच है

इस सवाल पर उर्फी ने कहा, ‘मुझे लगता है सोच तो सोच है, ये हिंदू में भी हो सकता है और मुस्लिम में भी हो सकता है. तो ये सोचने की बात है कि इसका धर्म से कोई लेना-देना नहीं है. इस पर उर्फी से पूछा गया, ‘धर्म इसलिए पूछा गया क्योंकि अक्सर ट्रोलिंग के दौरान आपसे धर्म आदि का ख्याल रखने को भी कहा जाता है?’ उर्फी कहती हैं, ‘अगर वह हिंदू होती तो लोग उन्हें साड़ी पहनकर घूमने नहीं देते। कहो, मेरा मानना है कि चरमपंथी हर धर्म में मौजूद हैं। वरना अगर कोई इंसान बुरा है तो उसके लिए आप उसके धर्म को जिम्मेदार नहीं ठहरा सकते. यह पूरी तरह से लोगों की सोच का विषय है. हर धर्म में हर तरह की सोच के लोग मौजूद हैं।

click  here 

click  here

Leave a Comment