उत्तर प्रदेश में गन्ना अब गन्ना महिला सशक्तिकरण का भी कारण बन गया है. 

प्रदेश के 37 प्रमुख गन्ना उत्पादक जिलों में गन्ने की खेती से 60 हजार महिलाओं को  स्वरोजगार मिला है.

Scribbled Underline
Off-White Arrow
Scribbled Underline

यहां महिलाएं गन्ने की उन्नत किस्म की प्रजातियों के पौध तैयार करती हैं,

Scribbled Underline
Off-White Arrow
Scribbled Underline

लिहाजा गन्ने की उपज, रकबा, चीनी का परता और अंततः इस सबके जरिये गन्ना किसानों की आय बढ़ाने में भी योगदान दे रहीं हैं.

Scribbled Underline
Off-White Arrow
Scribbled Underline

दरअसल प्रदेश सरकार की एक योजना ने 60 हजार से ज्यादा महिलाओं को रोजगार दिया है.

Scribbled Underline
Off-White Arrow
Scribbled Underline

महिलाएं यहा सालाना 2 लाख रुपये तक कमा रही हैं.

Scribbled Underline
Off-White Arrow
Scribbled Underline

योजना के तहत प्रदेश के 37 गन्ना बहुल जिलों में गन्ना विकास परिषद एवं चीनी मिलों ने संयुक्त रूप से गांवों का चयन करते हुए

Scribbled Underline
Off-White Arrow
Scribbled Underline

महिलाओं का स्वयं सहायता समूह बनाकर इनके प्रशिक्षण की व्यवस्था की है.

Scribbled Underline
Off-White Arrow
Scribbled Underline

इसके अंतर्गत महिलाओं को यथासंभव अनुदान के माध्यम से और चीनी मिलों के सहयोग से आवश्यक मशीनें, एवं उपकरण उपलब्ध कराए गयें हैं.

Scribbled Underline
Off-White Arrow
Scribbled Underline